DGP के ‘कोरोना वॉरियर’ भी संकट में, 17 Positive, पढ़ें

2

चंडीगढ़ (ब्यूरो): पंजाब में विशेष आरटी-पीसीआर कोविड टेस्टिंग मुहिम के दौरान पुलिस थानों और फ्रंट लाइन में तैनात 7165 पुलिस कर्मचारियों में से 17 कर्मचारियों के टैस्ट पाॅजिटिव पाए गए। राज्य स्तरीय कर्फ्यू/लॉकडाउन के दौरान पिछले तीन महीनों से लगभग 48 हजार पुलिस कर्मी रात दिन काम पर डटे हैं। डी.जी.पी. दिनकर गुप्ता ने पुलिसकर्मियों के टैस्ट कराने के लिए जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिए थे।

गुप्ता ने कहा कि राज्य के औसतन दो प्रतिशत पाॅजिटिव मामलों की तुलना में पुलिस फोर्स के कुल नमूनों के लगभग 0.9 प्रतिशत मामले पाॅजिटिव पए गए हैं। उन्होंने बताया कि 17 पाॅजिटिव मामलों में से 14 पुलिसकर्मी जिला पुलिस से सम्बन्धित हैं, दो (एक रसोइया समेत) स्टेट आर्म्ड पुलिस/इंडियन रिजर्व बटालियन (आईआरबी) और एक पंजाब होम गार्डज (पीएचजी) के हैं। उन्होंने कहा कि संगरूर में सबसे अधिक पाॅजिटिव केस सामने आए हैं।

गुप्ता ने कहा कि 12 जून तक लिये गए 7165 नमूनों में से 1868 टैस्ट नेगेटिव पाए गए, जबकि 5280 के नतीजों का अभी इन्तजार है। नमूने लेने की प्रक्रिया एक जून को शुरू हुई थी और रोजमर्रा के आधार पर थानों और अन्य जोखिम वाले क्षेत्रों में स्वास्थ्य विभाग के पास उपलब्ध टेस्टिंग सामर्थ्य के आधार पर तैनात अधिक से अधिक पुलिसकर्मियों की जांच करने की कोशिश की गई।

सभी सत्रह संक्रमित पुलिस कर्मचारी सिविल अस्पतालों में या पंजाब स्वास्थ्य विभाग द्वारा स्थापित किये गए कोविड केयर सेंटरों में एकांतवास किये गए हैं।उन्होंने एक वीडियो काॅन्फ्रेंस के जरिए सभी एसएसपीज /सीपीज और आईजी रेंज को निर्देश दिए थे कि सभी पुलिस कर्मचारियों का आरटी-पीसीआर टैस्ट करवाया जाये जो राज्य के 27 रैविन्यू / पुलिस जिलों के 400 से अधिक थानों में अगली कतार पर तैनात हैं।