स्टार किड आर्यन खान को Drug केस में अदालत से मिली राहत, लेकिन अभी रहेंगे जेल में!, पढ़ें

bombay
Prabhat Times
मुंबई। (aryan khan gets bail in bombay high court in cruise drug case) शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को करीब 25 दिनों बाद जमानत मिल गई है। बॉम्बे हाई कोर्ट ने 3 दिनों की जिरह के बाद आर्यन खान के अलावा अरबाज मर्चेंट और मुनमुन धमेचा को भी जस्टिस नितिन साम्ब्रे ने जमानत देने का फैसला दिया। हालांकि, तीनों  की आर्थर रोड जेल से  कल या परसों ही रिहाई संभव हो पाएगी। दरअसल, इस मामले में हाई कोर्ट का पूरा फैसला कल दोपहर या शाम तक आने की उम्मीद है और इसके बाद ही रिलीज ऑर्डर जारी होगा। अगर दोपहर तक हाई कोर्ट का विस्तृत फैसला हो जाता है, तो शाम तक तीनों की रिहा हो जाएंगे। अगर देर होती है, तो फिर इनकी रिहाई शनिवार को ही हो पाएगी।
फैसले के बाद आर्यन के वकील मुकुल रोहतगी ने कहा कि मेरे मुवक्किल को जमानत मिल गई है। उन्होंने कहा कि हाई कोर्ट का विस्तृत फैसला आने के बाद आर्यन की रिहाई कल या परसों तक हो जाएगी। इसके साथ ही यह तय हो गया है कि आर्यन खान अपने घर ‘मन्नत’ में दिवाली मना पाएंगे।

बेल के विरोध में अनिल सिंह ने दीं ये दलीलें

अनिल सिंह ने आज कोर्ट में कहा,  आर्यन खान और अरबाज मर्चेंट नियमित रूप से ड्रग्स लेते हैं। यह भी सामने आया है कि बल्क क्वॉन्टिटी में हार्ड ड्रग्स खरीदी गईं। वह ड्रग पेडलर्स के संपर्क में भी है। अचित ड्रग पेडलर है। उसे क्रूज से गिरफ्तार नहीं किया गया है। उन्होंने कहा, आर्यन और अरबाज बचपन के दोस्त हैं। उन्होंने साथ में ट्रैवल किया और एक ही रूम में रुकने वाले थे। अगर दो लोग साथ थे। उनमें से एक को पता है कि दूसरे के पास ड्रग्स है और वह लेता है तो पहला पर्सन ‘कॉन्शियस पजेशन’ में है। उन्होंने जज के सामने आर्यन के चैट्स भी रखे।

अनिल सिंह ने कही कॉन्शस पजेशन की बात

अनिल सिंह ने कहा, ये लोग कह रहे हैं कि हमने मेडिकल टेस्ट नहीं किया। हम तो ड्रग्स रखने पर बहस कर रहे हैं। आर्यन की जानकारी में ड्रग्स था। यह कॉन्शस पजेसन है। एनसीबी की तरफ से दलील रखी गई कि सभी 8 लोगों के पास अलग-अलग तरह की ड्रग्स मिली वह भी एक ही दिन, एक ही जगह से। आप देखिए ड्रग्स कैसी हैं और इनकी मात्रा क्या है।

जज को दिखाए चैट्स

अनिल सिंह ने कोर्ट में कहा, मेरा यह कहना है कि उसकी जानकारी में ड्रग्स रखी गई थी औऱ उसका पेडलर्स से कनेक्शन है और यह कॉमर्शियल क्वॉन्टिटी में थी। साजिश को साबित करना कठिन है। सिर्फ साजिशकर्ता जानते हैं। हमारे पास वॉट्सऐप चैट्स हैं जिन्हें हम ऑन रिकॉर्ड रखेंगे। अगर किसी ने क्राइम नहीं किया लेकिन कोशिश की तो ये भी क्राइम ही है। अनिल सिंह ने जस्टिस साम्ब्रे को दिखाए चैट्स। अनिल सिंह ने कोर्ट में कहा कि सबूतों से छेड़छाड़ की जा सकती है क्योंकि एक एफिडेविट में कुछ नाम और डिटेल्स थी।

रोहतगी ने आज भी किया काउंटर

अनिल सिंह ने कहा, ये लोग कह रहे हैं कि हमने मेडिकल टेस्ट नहीं किया। हम तो ड्रग्स रखने पर बहस कर रहे हैं। आर्यन की जानकारी में ड्रग्स था। यह कॉन्शस पजेसन है। एनसीबी की तरफ से दलील रखी गई कि सभी 8 लोगों के पास अलग-अलग तरह की ड्रग्स मिली वह भी एक ही दिन, एक ही जगह से। आप देखिए ड्रग्स कैसी हैं और इनकी मात्रा क्या है। अनिल सिंह ने कहा कि इन लोगों ने पंचनामा में ये बात स्वीकार भी की है कि वे ‘धमाका’ (एंजॉय) करने जा रहे थे। उनकी तरफ से जिरह की गई कि जमानत देना नियम- नहीं है। ड्रग केस में 27 अक्टूबर तक आर्यन खान, अरबाज मर्चेंट और मुनमुन धमेचा के वकील अपनी दलीलें रख चुके थे। आज एनसीबी की तरफ से ASG अनिल सिंह ने बेल के विरोध में जिरह की। मुकुल रोहतगी ने उनका काउंटर किया। आखिरकार जज ने आर्यन खान के पक्ष में फैसला दिया।

ये भी पढ़ें