एक साल पहले हुआ Blind Murder ट्रेस, ऐसी दरिंदगी से की दुश्मन की हत्या कि रूह कांप उठे, पढ़ें

Prabht Times
जालंधर। लगभग 1 साल पहले ब्यास दरिया के किनारे हुए युवक के ब्लाईंड मर्डर (Blind Murder) की की गुत्थी जालंधर देहात पुलिस ने सुलझाई है। अपराधिक वारदातों में वांछित भगौड़े अपराधी से पूछताछ के दौरान ब्यास के निकट हुआ ब्लाईंड मर्डर ट्रेस किया गया है। लेकिन जांच के दौरान वारदात के सनसनीखेज पहलू सामने आए हैं।
जालंधर देहात के एस.एस.पी. नवीन सिंगला ने बताया कि एस.पी. मनप्रीत सिंह ढिल्लों के नेतृत्व में सी.आई.ए. स्टाफ के इंचार्ज पुष्प बाली को सूचना मिली थी कि अपराधिक वारदातों में वांछित अपराधी गुरदीप सिंह उर्फ सन्नी उर्फ सैणी एरिया में सक्रिय है। सी.आई.ए. इंचार्ज पुष्प बाली के नेतृत्व में ए.एस.आई. बलविन्द्र सिंह की टीम ने आरोपी गुरदीप सिंह उर्फ सन्नी उर्फ सैनी वासी बुट्टरां को गिरफ्तार किया। एस.एस.पी. नवीन सिंगला ने बताया कि जांच के दौरान ब्लाईंड मर्डर संबंधी सनसनीखेज खुलासा हुआ।
एस.पी. इनवेस्टीगेशन मनप्रीत सिंह ढिल्लों, सी.आई.ए. इंचार्ज पुष्प बाली द्वारा गहराई से की गई पूछताछ में खुलासा हुआ कि आरोपी गुरदीप सन्नी ने लगभग 5 साल पहले रंजिश के चलते दीपक हीरां वासी सतनामपुरा, फगवाड़ा का मर्डर करके आग लगा दी और शव ब्यास दरिया में फैंक दिया। इस संबंधी ब्यास थाना में हत्या का केस दर्ज है। एस.एस.पी. नवीन सिंगला ने बताया कि आरोपी ने ब्लाईंडर मर्डर संबंधी बताया कि उसका सुमन वासी जमालपुर, भोगपुर के साथ संबंध थे। उससे पहले सुमन दीपक हीरां के साथ रहती थी। इस बात को लेकर दोनो में विवाद था।
गुरदीप सन्नी और दीपक हीरां दोनो साल 2015-16 में जेल में इकट्ठे हुए। गुरदीप और दीपक की जेल में कई बार लड़ाई हुई। दोनो में खासी रंजिश हो गई। इसके पश्चात गुरदीप जेल से बाहर आ गया, लेकिन दीपक द्वारा उसे लगातार धमकियां दी जा रही थी। इसी बीच साल 2020 में दीपक हीरां भी जेल से जमानत पर छूट कर आया। गुरदीप सन्नी ने पुलिस को बताया कि दीपक हीरां उसे मारने के लिए प्लानिंग कर रहा था।
इसी बीच एक दिन गुरदीप सन्नी अपने गैंग के सदस्य शैली, लाड्डी, सन्नी लहौरिया, धर्मेन्द्र उर्फ पिंदरी के साथ मांगौकी गांव में अहाते पर शराब पी रहे थे कि इसी बीच दीपक हीरां वहां आ गया। अहाते पर ही गुरदीप व उसके साथियों ने दीपक हीरां के साथ मारपीट की और उसे गाड़ी में डाल कर अपने साथ चन्नी वासी गांव गौरे, कपूरथला के घर ले गए। जहां पर उसके साथ मारपीट करक बाजू तोड़ दी और रात के समय में उसे ब्यास दरिया के पास ले गए।
एस.एस.पी. नवीन सिंगला ने बताया कि जांच में पता चला कि आरोपियों ने दीपक हीरां का गला दबा कर कत्ल कर दिया और पहचान न हो सके इसके लिए शराब और पैट्रोल डाल कर शव जला दिया। फिर शव बांध कर ब्यास दरिया में फैंक दिया। एस.एस.पी. नवीन सिंगला ने बताया कि ब्यास थाना में हत्या का केस दर्ज है। लेकिन पहचान न हो पाने के कारण अनट्रेस रहा। एस.एस.पी. ने बताया कि आरोपी गुरदीप सन्नी के खिलाफ जालंधर, कपूरथला में कई अपराधिक केस दर्ज हैं। उसके साथियों की तलाश में छापेमारी की जा रही है।

ये भी पढ़ें