पंजाब में CM चन्नी-सिद्धू के बीच इस फार्मूले पर सहमती के आसार! कैप्टन अमरिंदर का नवजोत सिद्धू को खुला चैलेंज

be

Prabhat Times

प्रीत सूजी

चंडीगढ़। (Charanjit Channi Navjot Sidhu Meeting) पंजाब कांग्रेस में जारी घमासान के बीच नवजोत सिंह सिद्धू और मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के बीच गुरुवार को मुलाकात हुई. तकरीबन दो घंटे तक चली इस बैठक में दोनों के बीच पंजाब सरकार द्वारा की गईं नियुक्तियों पर चर्चा हुई. सूत्रों के अनुसार, दोनों के बीच कुछ हद तक गिले-शिकवे दूर हो गए हैं, लेकिन अब भी कई मामले में जिस पर पेच फंसा हुआ है.
इसी बीच सूत्रों के हवाले से बड़ी खबर ये है कि पंजाब के डीजीपी और एडवोकेट जनरल को बदला जाएगा. पंजाब के नए डीजीपी के लिए UPSC पैनल की सिफारिश की जाएगी. बड़े फैसलों के लिए तीन सदस्‍यीय कमेटी बनेगी. इसमें सिद्धू, चन्‍नी और हरीश चौधरी होंगे. हर हफ्ते तीन सदस्‍यीय कमेटी की मीटिंग होगी, सभी बड़े फैसले ये कमेटी ही करेगी. बैठक में हुई चर्चा पर अंतिम मुहर हाईकमान ही लगाएगा.
बता दें कि नवजोत सिंह सिद्धू ने दो दिन पहले पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था. सिद्धू ने आरोप लगाया था कि राज्य सरकार में कई पदों पर दागियों की नियुक्ति की गई है, जिसमें कैबिनेट मंत्री, एडवोकेट जनरल, डीजीपी का नाम शामिल है. नियुक्तियों में नवजोत सिंह सिद्धू की ना सुने जाने के मसले पर उन्होंने अपना इस्तीफा दे दिया था.
सूत्रों की मानें तो लगभग दो घण्टे की बातचीत में कई बार उतार चढ़ाव हुए। पहले नवजोत सिद्धू और मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की बैठक में कुछ मुद्दों पर तो सहमति बनी, लेकिन कई मुद्दे अब भी ऐसे हैं, जिसपर कोई सहमति नहीं बनी. सिद्धू एडवोकेट जनरल और डीजीपी को हटाने पर अड़ गए थे, जबकि चन्नी ने कहा कि जिन केसों पर सिद्धू को ऐतराज है, उन पर स्पेशल सॉलिसिटर को लगाया जा सकता है, लेकिन एडवोकेट जनरल को नहीं हटाया जाएगा. अब इस पर कांग्रेस आलाकमान फैसला लेगा.

सिद्धू को चुनाव नहीं जीतने दूंगा-कैप्टन अमरिंदर

sidhuपंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आज कहा कि वह कांग्रेस पार्टी छोड़ रहे हैं और वह बीजेपी में शामिल नहीं हो रहे हैं. कैप्टन ने साथ ही नवजोत सिंह सिद्धू पर निशाना साधते हुए कहा कि वह किसी भी सीट से चुनाव लड़ लें उन्हें जीतने नहीं दूंगा. दिल्ली से चंडीगढ़ लौटने पर कैप्टन ने पत्रकारों से कहा, ‘मैं कांग्रेस पार्टी छोड़ रहा हूं और मैं इस पार्टी में नहीं हूं पर बीजेपी में शामिल नहीं हो रहा हूं.’
एनएसए अजीत डोभाल से मिलने के सवाल पर अमरिंदर ने कहा कि उन्होंने उनसे राष्ट्रीय सुरक्षा के मसलों पर बातचीत की. क्या पंजाब में फ्लोर टेस्ट होगा इस सवाल के जवाब में अमरिंदर ने कहा कि अगर कोई दल बहुमत खो देता है तो विधानसभा स्पीकर को फैसला लेना होता है. कैप्टन ने सिद्धू पर बरसते हुए एक बार फिर कहा कि सिद्धू पंजाब के लिए सही आदमी नहीं है. उन्होंने कहा कि सिद्धू राज्य में कहीं से भी चुनाव लड़ेंगे वह उन्हें जीतने नहीं देंगे. अमरिंदर ने कहा कि मेरे मुख्यमंत्रित्व काल में भी पंजाब कांग्रेस के चीफ थे, लेकिन सिद्धू ने जो किया है वैसा पहले किसी ने नहीं किया.

ये भी पढ़ें