तीसरी बार माफी मांगने पर निबटा करण अवतार सिंह-मनप्रीत बादल विवाद, पढ़ें

चंडीगढ़ (ब्यूरो): पिछले कई दिनों से पंजाब में चीफ सचिव व मंत्रीमंडल के बीच चल रहा विवाद आज सुलझ गया। बीते दिनों पंजाब के सी.एम. कैप्टन अमरेंद्र सिंह की लंच डिप्लोमेसी काम आ गई। केबनेट में चीफ सचिव द्वारा माफी मांगने के बाद कैबनेट ने उन्हें माफ कर दिया।

पंजाब मंत्रीमंडल की बैठक आज सचिवालय चंडीगढ़ में कैप्टन अमरेंद्र सिंह की अध्यक्षता में हुई। जिसमें सभी मंत्रियों के अतिरिक्त चीफ सचिव करण अवतार सिंह भी पहुंचे।

मीटिंग के बाद कैूबेनेट मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने कहा कि कोरोना के बाद पहली बार सचिवालय में रूबरू मीटिंग हुई है। बैठक में मुख्य सचिव करण  अवतार सिंह के मुद्दे पर चर्चा हुई। जिसमें मुख्य सचिव करण अवतार सिंह ने अपने व्यवहार के लिए माफी मांगी और आस्वस्त किया किया कि भविष्य में वे ऐसा मौका नहीं देंगे।

बादल के मुताबिक तीसरी बार उन्होने माफी मांगी। पहली बार निजी तौर पर, दूसरी बार पिता के भोग तथा अब कैबनेट में माफी मांग ली है। जिस पर कैबनेट ने ये तय किया है कि अब करण अवतार सिंह तीन बार माफी मांग चुके हैं तो माफी दी जानी चाहिए। उन्होने कहा कि अब ये मुद्दे खत्म हो गया है।