CM केजरीवाल की बेटी से Online फ्राड, खाते से उड़ गए इतने पैसे

Prabhat Times
नई दिल्ली। डिजिटल इंडिया के एडवांस्ड दौर में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) की बेटी हर्षिता ऑनलाइन ठगी की शिकार हो गई हैं। वह ओएलएक्स पर अपने घर का पुराना सोफा बेचना चाहती थीं, मगर इसी कोशिश में साइबर ठगों ने उनके अकाउंट से 34 हजार रुपए उड़ा दिए।
हर्षिता ने पूरे मामले की शिकायत दिल्ली के सिविल लाइंस थाने में दी है। ठगी की यह घटना रविवार 7 फरवरी को हुई। चूंकि, मामला हाईप्रोफाइल है, इसलिए दिल्ली पुलिस भी तुरंत अलर्ट हो गई और आरोपियों की तलाश में जुट गई है।
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की बेटी हर्षिता अपने घर का पुराना सोफा बेचना चाहती थीं। इसके लिए उन्होंने ओएलएक्स वेबसाइट का रुख किया। उन्होंने ओएलएक्स पर सोफा बेचने के लिए विज्ञापन दिया, लेकिन उन्होंने शायद ही सोचा होगा कि इस चक्कर में वह खुद ऑनलाइन ठगी का शिकार हो जाएंगी।
दरअसल, सोफा बेचन पर हर्षिता को कथित खरीददारों ने ऑनलाइन पेमेंट तो नहीं किया, मगर उनके अकांउट से दो ट्रांजेक्शन हुए, जिसमें कुल 34 हजार रुपए उड़ा लिए गए। अकाउंट से पैसा कट जाने और ओएलएक्स के जरिए सामान बेचने के एवज में भुगतान नहीं मिलने की शिकायत हर्षिता ने दिल्ली के सिविल लाइंस थाने में की है।
उनकी शिकायत पर दिल्ली पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। इसकी जांच दिल्ली पुलिस के नार्थ डिस्ट्रिक की साइबर सेल को सौंपी गई है।
पुलिस को दी गई शिकायत में हर्षिता ने बताया कि वह अपने घर का पुराना सोफा बेचना चाहती थीं। इसके लिए उन्होंने ऑनलाइन ओएलएक्स वेबसाइट पर विज्ञापन दिया और सोफे की कुछ फोटो अपलोड की। इसके बाद उनसे एक खरीददार ने सोफा खरीदने में दिलचस्पी दिखाई और संपर्क किया।
बातचीत के बाद रकम तय हुई। पुुलिस के अनुसार, हर्षिता ने बताया कि खरीददार ने तय राशि भेजने के लिए अकांउट नंबर मांगा। खरीददार ने पहले दो रुपए हर्षिता के अकाउंट में भेजे। इसके बाद हर्षिता को उस खरीददार पर भरोसा हो गया।
लेकिन इसी बीच खरीददार ने ऑनलाइन ठगी का नया तरीका अपनाया। उसने हर्षिता को क्यूआर कोड भेजा। इसके जरिए कोड को स्कैन करके पैसे अकाउंट में भेजे जा सकें। लेकिन हर्षिता के अकाउंट में रकम आने के बजाय उसमें से कट गई।
जब हर्षिता ने उस खरीददार से इस बारे में पूछा तो उसने बताया कि गलत क्यूआर कोड सेंड हो गया था और वह फिर से नया क्यूआर कोड भेज रहा है।
इसको स्कैन करने पर कटी हुई राशि भी हर्षिता को वापस मिल जाएगी। साथ ही, सोफे की तय की हुई रकम भी हर्षिता के अकांउट में सेंड हो जाएगी। हर्षिता साइबर ठग की चाल में इस बार भी आ गईं और उन्होंने दोबार क्यूआर कोड को स्कैन कर लिया। इस बार भी उनके अकाउंट से पैसे कट गए। दो बार कुल 34 हजार रुपए कटने के बाद हर्षिता ने दिल्ली पुलिस को शिकायत दी।
ये भी पढ़ें