Prabhat Times
जालंधर। कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर एक बार फिर पंजाब सरकार सख्त हो गई है। सरकार ने निर्देश जारी किेए हैं कि पंजाब में एक मार्च से सोशल गैदरिंग की लिमिट एक बार फिर से कम कर दी गई है। साथ ही नियमों का पालन करने के लिए सख्ती बरतने के लिए कहा गया है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह द्वारा हाई लैवल कमेटी की रिव्यू मीटिंग के बाद आज एक बार फिर ये बड़ा फैसला लिया गया है।
मीटिंग के पश्चात राज्य सरकार द्वारा हर एक जिला के डी.सी. को निर्देश दिए है कि परिस्थितियों के मुताबिक हॉट स्पाट इलाके चिन्हित करके नाईट कर्फ्यु लगा सकते हैं। साथ ही जिलों मे एक बार फिर कंटेनमैंट और माईक्रो कंटेनमैंट एरिया चुने जाएं। और सख्ती बरती जाए। पंजाब सरकार द्वारा पुलिस प्रशासन को भी कोविड नियमों का पालन यकीनी बनाने के लिए सख्ती बरतने के निर्देश दिए है।
हाई लेवल मीटिंग निर्देश दिए गए है कि 1 मार्च से इनडोर कार्यक्रमों में 100 तथा आउटडोर कार्यक्रमों में 200 से ज्यादा लोग शामिल नहीं हो सकेंगे। मुख्यमंत्री अमरेंद्र सिंह ने कहा कि सिनेमा हाल में कैपेसिटी के बारे में 1 मार्च के बाद रिव्यू मीटिंग के पश्चात फैसला लिया जाएगा। कैप्टन अमरेंद्र सिंह द्वारा एक बार फिर टेस्टिंग बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं।
स्कूलों में नियमों का सख्ती से पालन करने के लिए अध्यापकों को नोडल अधिकारी नियुक्त करने के लिए कहा गया है। सी.एम. ने निर्देश दिए हैं कि सभी सरकारी और प्राईवेट कार्यलय के कर्मचारी टैस्टिंग करवाएं। अगर कोई कर्मचारी पोज़िटिव आता है तो उसके संपर्क में रहे करीब 15 लोगों की टैस्टिंग की जाए।

ये भी पढ़ें

Share the information