Prabhat Times

नई दिल्ली: कोरोना वायरस का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। चीन से निकले इस खतरनाक वायरस से दुनियाभर में 15,651,911 लोग संक्रमित हो चुके हैं और 636,470 लोगों की मौत हो गई है।

इस महामारी से सबसे ज्यादा अमेरिका प्रभावित हुआ है। यहां संक्रमितों की संख्या 4,169,991 हो गई और मरने वालों का आंकड़ा 147,333 हो गया है। इसके बाद ब्राजील और भारत में सबसे ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं। जिस हिसाब से कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ रही है लोगों को सावधान रहने की जरूरत है। अगर आप गलती से भी किसी कोरोना पॉजिटिव मरीज के संपर्क में आए है तो आपको तुरंत ये काम करने चाहिए।

  • अगर आपको लगता है कि आप किसी संक्रमित मरीज के संपर्क में आए हैं, सबसे पहले खुद को 14 दिनों के लिए होम क्वारंटाइन कर लें।
  • बुखार, सांस की तकलीफ, खांसी, गंध में कमी, गले में खराश, बहती नाक, दस्त और मांसपेशियों में दर्द। यदि आप बीमार महसूस करते हैं, तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें।
  • अगर आपको खुद में कोरोना का कोई लक्षण नहीं दिख रहा या फिर आपने टेस्ट नहीं करवाया हो, तो दूसरों को यह बताना महत्वपूर्ण है कि आप किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए हैं।
  • अगर आपको इस बात की जानकारी हो कि आप किसी संक्रमित मरीजों के संपर्क में आए हैं तो जल्द से जल्द कोरोना का टेस्ट करवाएं।
  • इस समय आपको इम्यूनिटी वाले फूड्स को अपने डाइट में शामिल करना चाहिए। इसके अलावा आयुर्वेद की मदद से भी आप अपने इम्यूनिटी को मजबूत कर सकते हैं। गिलोय, हल्दी, मुलेठी, तुलसी का पत्तों से बना काढ़ा भी बेहद फायदेमंद होता है।अगर आपको फ्लू जैसे लक्षण महसूस हो रहे हैं, तो आप सीधे अस्पताल जाकर कोरोना की जांच नहीं करा सकते हैं। दिल्ली सरकार की स्वास्थ्य सचिव की सहायक डॉक्टर ऋतू के अनुसार, कोरोना वायरस की जांच के लिए पहले आपको कोरोना वायरस हेल्पलाइन में फोन करना पड़ेगा।इसलिए अगर आपको शक है कि आपको कोरोना के लक्षण हैं, तो आप अस्पताल जाने की बजाय हेल्पलाइन पर फोन करें। कोरोना वायरस के लिए भारत में हेल्पलाइन नंबर 011-23978046 है और राज्यों के लिए अलग-अलग हेल्पलाइन हैं।

ये भी पढ़ें

Share the information