Share Market धड़ाम, एक दिन में निवेशकों के डूबे इतने लाख करोड़

investor
Prabhat Times
नई दिल्ली। (black friday in dalal street investor lost almost 5- lakh crore) शेयर मार्केट में शुक्रवार का दिन निवेशकों के लिए बुरे सपने से भी बुरा रहा. ब्लैक फ्राइडे वाकई में काला साबित हुआ. शुक्रवार के सेशन में निवेशकों के लगभग 5 लाख करोड़ रुपए स्वाहा हो गए. आज के सत्र (शुक्रवार, 26 नवम्बर 2021) में ही एनएसई (NSE) में 2.91 प्रतिशत की (509 अंकों की) गिरावट दर्ज की गई तो BSE सेंसेक्स में 2.87 प्रतिशत (1687 अंकों) की गिरावट आई. फार्मा के अवाला कोई भी सेक्टर हरे रंग में बंद नहीं हुआ. शुक्रवार के सेशन में BSE सेंसेक्स 1687.94 अंकों की गिरावट के साथ 57,107.15 पर बंद हुआ तो NSE सूचकांक 509.80 अंकों की बड़ी गिरावट के साथ 17026.50 पर बंद हुआ. बताया जा रहा है कि कोरोना के नए वेरिएंट के मिलने के बाद बाजार पर इस तरह का नेगेटिव असर देखने को मिला है.
इसी साल 19 अक्टूबर को BSE सेंसेक्स ने 62,245 का शिखर छुआ था, तो उसी समय नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ने भी 18,604 का ऑल टाइम हाई बनाया. लेकिन उसके बाद बाजार में लगातार गिरावट देखने को मिली और अब तक लगभग 8 प्रतिशत बाजार गिर चुका है. इस बड़ी गिरावट में निवेशकों के लगभग 16 लाख करोड़ रुपये डूब गए हैं.

गिरावट में कोई भी सेक्टर अछूता नहीं

19 अक्टूबर को जब मार्केट बंद (Market Cap) हुआ, तब BSE Sensex का मार्केट कैपिटलाइजेशन करीब 2,74,69,606.93 करोड़ रुपये था. हालांकि शुक्रवार की गिरावट के सेंसेक्स का मार्केट कैप अब घटकर 2,60,81,433.97 करोड़ रुपये पर आ गया.
19 अक्टूबर के बाद से सेंसेक्स में आई गिरावट से कोई भी सेक्टर अछूता नहीं है. सबसे अधिक गिरावट BSE मेटल्स इंडेक्स में आई, जो इस दौरान करीब 13.6 पर्सेंट लुढ़का. BSE एनर्जी इंडेक्स इस दौरान 10 पर्सेंट टूटा, जबकि BSE बैंकेक्स (BSE Bankex) 8.2 पर्सेंट गिरा. BSE फाइनेंस इंडेक्स में 7.37 पर्सेंट की गिरावट आई. वहीं BSE FMCG इंडेक्स में 7.04 पर्सेंट, BSE IT इंडेक्स 6.68 पर्सेंट, BSE ऑयल एंड गैस 6.1 पर्सेंट, BSE ऑटो 6.01 पर्सेंट और BSE रियल्टी इंडेक्स में 5.74 पर्सेंट की गिरावट आई है. इसी अवधि के दौरान BSE मिडकैप और स्मॉलकैप क्रमश: 5.65 पर्सेंट और 4.6 पर्सेंट नीचे गिरा है.

क्यों इतना भयंकर तरीके से गिरा बाजार?

मार्केट एक्सपर्ट बता रहे हैं कि दुनियाभर में कोरोना के नए वेरिएंट के एक्टिव होने से मची खलबली का असर बाजार पर भी देखने को मिल रहा है. दक्षिण अफ्रीका में कोरोना वायरस (Coronavirus) के नए वेरिएंट (Covid-19 New Variant) के मामले मिलने के बाद दुनियाभर में खलबली मच गई है. दक्षिण अफ्रीका के वायरोलॉजिस्ट ट्यूलियो डी ओलिवेरा ने बताया कि दक्षिण अफ्रीका (Covid strain in South Africa) में मल्टीपल म्यूटेशन वाला कोविड वेरिएंट सामने आया है. इसके बाद यूनाइटेड किंगडम (UK) ने 6 अफ्रीकी देशों (UK Bans Flights) से उड़ानों के अस्थायी निलंबन की घोषणा की है.

“प्रभात प्रीत” का नवंबर एडीशन देखने के लिए क्लिक करें

ये भी पढ़ें