इंटरनेशनल योग दिवस पर डिप्स में करवाया गया ऑनलाइन वैबीनार

Prabhat Times
जालंधर। इंटरनेशनल योग दिवस पर डिप्स कॉलेज ऑफ एजुकेशन, ढिलवां में डिप्स चेन के सभी स्कूलों और कॉलेज के स्टाफ और विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन योग वैबीनार का आयोजन किया गया। वैबीनार के दौरान सर्टीफाइड योगा ट्रेनर सोनिया अरोड़ा और मीना गुप्ता ने डिप्स संस्थान के स्टाफ और विद्यार्थियों को बताया कि किस तरह से हम योग करके खुद को मानसिक और शारीरिक तौर पर फिट रख सकते है। उन्होंने ने बताया कि योग हमारे शरीर को स्वस्थ, लचीला और शक्तिशाली बनाता है।
सेमिनार के दौरान स्टाफ और विद्यार्थियो को वीरभद्रासन, वृक्षासन, अर्ध चंद्रासन, भुजंगासन, बाल आसन, मार्जरी आसन, नटराज आसन, गोमुख, हलासन, सेतु बांध आदि आसन करने का सही तरीका और उनके फायदे बताए। उन्होंने बताया कि योग करते हुए बहुत सारी सावधानियों का ध्यान रखना चाहिए ताकि योग का हमें पूरी फायदा मिल सकें।
प्रिंसिपल डॉक्टर मुकेश ने रोजाना कुछ समय योग करने से हमारे शरीर का रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है जो कि आज के समय में बहुत ही महत्वपूर्ण है। आज योग न केवल भारत में बल्कि पूरी दुनिया में लोगों द्वारा किया जाता है और विदेश से लोग खास करके योग सीखने के लिए आते है और उनके लिए ऑनलाइन योगा शिवर भी लगाए जाते है।
एमडी सरदार तरविंदर सिंह ने कहा कि योग मनुष्य के मन और आत्मा की क्षमता को बढ़ाकर आत्मज्ञान की प्राप्ति करवाता है। योग हमारे मस्तिष्क को एक्रागर करने में मदद करता है जिससे हमारे मन में अच्छे विचारों का निवास होता है। सीईओ मोनिका मंडोत्रा ने कहा कि विद्यार्थियों के लिए योग बहुत ही लाभदायक माना गया है इससे बच्चों के मन मस्तिष्क में स्थिरता आती है और बच्चों को अपनी पढ़ाई में ध्यान केंद्रित करने में भी पूर्ण रूप से सहायता मिलती है।
सीएओ रमनीक सिंह और जशन सिंह ने कहा कि बच्चों को पढ़ाई और अन्य गतिविधियों और प्रतियोगिताओं का बोझ बचपन से ही उठाना पड़ता है जिसका असर उनके दिल, दिमाग और शरीर पर पड़ता है। ऐसे में विद्यार्थियों के लिए प्रारंभ से ही योगा करना अनिवार्य है ताकि वह खुद को फिट रख सके।

ये भी पढ़ें