जदों बुकी ने कड्डियां जालंधर दे मशहूर ‘क्रिकेट प्रेमी’ नूं ताबड़तोड़ गालां

lover

Prabhat Times

जालंधर। (Dispute Cricket Lover or bookie jalandhar) वैसे तो रोजाना ही सोशल मीडिया पर आडियो वीडियो वॉयरल होती रहती हैं, लेकिन बीते दिन से वॉयरल एक ऑडियो ने जालंधर में हड़कंप मचाया हुआ है।
इस वॉयरल ऑडियो ने जालंधर के तथाकथित क्रिकेट प्रेमी का चेहरा तो बेनकाब किया ही है, साथ ही पिछले कई दशकों से क्रिकेट खेलने और बच्चों को खेलने के लिए प्रेरित करने वाले अन्य ‘क्रिकेट प्रेमियों’ को भी सवालों के कटघरे में ला खड़ा किया है।

वॉयरल ऑडियो

  • क्रिकेट प्रेमी –हैलो
  • बुकी–हैलो
  • क्रिकेट प्रेमी- हाजी
  • बुकी -हाजी बाऊ जी,
  • क्रिकेट प्रेमी – मेरे कोल बंदे आ गए सी, 3-4 वारी फोन कीत्ता…नंबर बंद जा रिहा..रॉबिन दा नंबर बंद जा रिहा, तेरे कोल हैगा रॉबिन दा नंबर
  • बुकी-कोई गल्ल नहीं माईकल नूं कर लओ बाऊ जी फोन
  • क्रिकेट प्रेमी – कोई न कर लैणा, तेरे नाल आप गल्ल करणगे..
  • बुकी-दिन किन्ने हो गए, बाकी वी ते लैण देण करने है अस्सी
  • क्रिकेट प्रेमी-मेरा थोड़ा ठेका, मैनूं ते आपणे नाल ठेका
  • बुकी – फेर आपणा ठेका पूरा नहीं करदे पए न, वेखों किन्ने दिन हो गए
  • क्रिकेट प्रेमी- मेरे नाल बौती बकवास न कर,,,
  • बुकी – ओए …गाली….तूं न बकवास कर….गाली….
  • क्रिकेट प्रेमी – चल ओए …तेरी…..गाली …तैनूं पता मेरा…गाली
  • बुकी- ओए…गाली..जिनां दे तूं ना लैंदा… तैनूं मेरा पता न…तैनूं पता बुक विच्च पत्ती किदी है
  • क्रिकेट प्रेमी–बकवास न कर…गाली….तैनूं पता नहीं मेरा…
  • बुकी-  ओ….गाली…मेरी गल्ल सुन…..जेड़े मर्जी…गाली…कौल चला जाईं…तेरी सुनवाई नईं होणी…गाली..पैलां पता कर लई…गाली…बुक किदी है…चोर…गाली…
  • क्रिकेट प्रेमी…जेदी मर्जी होवे, मैनूं की मतलब
  • बुकी- गाली…बोलदां किदां…गाली…चोर…गाली..
  • क्रिकेट प्रेमी- गाली…इक पैसा नहीं मारेया अज्ज तक…
  • बुकी- पैसे क्यों नहीं दे रिहा मेरे
  • क्रिकेट प्रेमी- इने तेरे है नईं…नहीं बणदे तेरे इने पैसे…गाली… चल्ल …गाली…नहीं बनदे तेरे….जेड़े बनदे है चक्क….
  • बुकी-क्यों नहीं बनदे…पुछ किसे वी पियो नूं….गाली…तेरी मैं भैण…गाली…जेड़ी पेटी खादी है उह…गाली….
  • क्रिकेट प्रेमी-गाली…मैं थोड़ा देने ने उह…गाली…
  • बुकी..किसे पियो नूं फोन कर माईकल नूं कर, रॉबिन नूं कर..गाली….
  • क्रिकेट प्रेमी- करदां…करदां हुणे फोन….गाली…तैनूं हुणे फोन करदे …गाली… गाली…तैनूं गल्तफहमी है कोई…गाली..
  • बुकी-तैनूं गल्तफहमी है कोई…गाली…जेड़े मर्जी कोल चल जाई…गल्तफहमी है कोई…पता लग्गा ना बुक विच्च किदी पत्ती है तें चू वी नहीं निकलनी तुहाडी…
  • क्रिकेट प्रेमी- मैनूं पता…सारे शहर नूं जानदा हा..
  • बुकी-गाली….जिदे मर्जी चली जाई. शहर दे किसे कोल चली जाई…गाली… उस बंदे दी सुनवाई नहीं…तैनूं मैं गल्ल दसां…
  • बुकी-किने दिन हो गए गल्ल दा जवाब दे इक
  • क्रिकेट प्रेमी-जवाब…मैं बाम्बे आया
  • बुकी- मैं ठेका लिया बाम्बे आन दा
  • क्रिकेट प्रेमी- मै वी ठेका नहीं लिया..इदां नहीं हुदा..
  • बुकी- गाली…जो गल्लां करदा….गाली…इदां नहीं हुंदा…..तैनूं मैं बाऊ जी बाऊ जी कर रिहा…गाली…
  • क्रिकेट प्रेमी- इदां नहीं हुंदे कारोबार…तू किह रिहा कारोबार रूक गिया…इदां केड़ा कारोबार रूकदा…
  • बुकी-तेरियां रूकदीयां, मेरीयां नूं रुकदीयां…किसे नूं मेरा लैण देण पुछ लईं…
  • क्रिकेट प्रेमी- तैनूं अधे घण्टे विच्च फोन करणगे…जो असूल कहिणगे…कर लवांगे
  • बुकी-तू…अधा घण्टा कैणा…गाली… हुण करवाना तेरी गल्ल, किस नाल गल्ल करवावा.
  • क्रिकेट प्रेमी- किदां करां,मैं करूंगा आप ही…मेरा वाकिफ नहीं.
  • बुकी- रॉबिन नाल करवा दिया…
  • क्रिकेट प्रेमी-रॉबिन नाल गल्ल करदां…रॉबिन नूं किह अंकल नाल गल्ल कर….
  • बुकी-कम दे वेले रॉबिन दा नंबर बंद हुंदा.. कम्म दा नंबर लै दिंदा….

चर्चा का विषय बनी हुई है ऑडियो रिकार्डिंग

ये ऑडियो कई दिन से शहर में चर्चा का विषय बनी हुई है। चर्चा है कि क्रिकेट लवर कोई और नहीं बल्कि शहर और क्रिकेट की संस्थाओं से जुड़ा हुआ बताया जा रहा है।

पुलिस चुप

इस ऑडियो वॉयरल से स्पष्ट हो चुका है कि जालंधर में क्रिकेट मैचों पर सट्टे का धंधा धड़ल्ले से चल रहा है। ऑडियो में स्पष्ट है कि क्रिकेट मैचों पर सट्टे के इस कारोबार में कई बड़े मगरमच्छ संलिप्त है।
इस अवैध कारोबार को बड़े प्रभावशाली लोगों का संरक्षण प्राप्त है। ऑडियो में बुकी द्वारा माईकल, रॉबिन जैसे बुकीज़ का नाम लिया गया है। लेकिन इस मामले में पुलिस द्वारा कोई एक्शन नहीं लिया जा रहा। पुलिस इस मामले में पूरी तरह से चुप्पी साधे हुए है।

खबरें ये भी हैं….


Subscribe YouTube Channel

Prabhat Times

Click to Join Prabhat Times FB Page

https://www.facebook.com/Prabhattimes14/

Join Telegram

https://t.me/prabhattimes14