पंजाब में बैकफुट पर Congress, जालंधर की इस सीट समेत 2 सीटों पर बदल सकते हैं Candidate

2024

Prabhat Times

चंडीगढ़। (punjab election seat 2022 congress party may change candidate) पंजाब कांग्रेस में 86 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट से ही घमासान मचने के बाद कांग्रेस बैकफुट पर नजर आ रही है। दूसरी लिस्ट जारी करने से पहले दो बड़ी सीटों आदमपुर और मजीठा पर नए सिरे से मंथन हो रहा है। इसके अलावा बाकी बचे 31 में से 10 सीटों पर ही सहमति बनी है। 21 पर 2 से 3 मजबूत दावेदार देख देरी हो रही है। पंजाब के कैंडिडेट की लिस्ट फाइनल करने के लिए कांग्रेस इलेक्शन कमेटी की कल मीटिंग होने जा रही है।
बता दें कि मोहिन्द्र सिंह के.पी. द्वारा नाराजगी जताने तथा चुनाव लड़ने की घोषणा के बाद सी.एम. चरणजीत चन्नी ने स्पष्ट कहा था कि के.पी. की नाराजगी जायज है, पार्टी इस बारे में गंभीरता से विचार कर रही है। इसके पश्चात के.पी. बिल्कुल शांत हो चुके हैं। मोहिन्द्र सिंह के.पी. ने आज भी यही कहा कि वे चुनाव लड़ेंगे। देखतें है कि कांग्रेस हाईकमान क्या निर्णय लेता है।
आदमपुर से कांग्रेस ने सुखविंदर कोटली को टिकट दी है। कोटली कुछ वक्त पहले ही बसपा से कांग्रेस में आए हैं। यहां से पूर्व सांसद मोहिंदर केपी बड़े दावेदार थे। वह सीएम चरणजीत चन्नी के करीबी रिश्तेदार हैं, इसलिए चन्नी भी उनके समर्थन में हैं। हालांकि कोटली सिद्धू के करीबी होने की वजह से टिकट पाने में कामयाब रहे। अब केपी ने खुली बगावत कर दी है और उनके भाजपा में जाने की चर्चाएं हैं।
बिक्रम सिंह मजीठिया की वजह से मजीठा चर्चित सीट है। यहां पहले कांग्रेस के लाली मजीठिया लड़ते थे। इस बार वह आप में शामिल हो गए और उन्हें वहां से टिकट मिल गई। लाली के बाद यहां भगवंत पाल सच्चर बड़े दावेदार थे लेकिन कांग्रेस ने लाली मजीठिया के चचेरे भाई जग्गा मजीठिया को टिकट दे दी। इससे खफा सच्चर ने कांग्रेस छोड़ भाजपा जॉइन कर ली। हालांकि कुछ ही घंटों में वह वापस कांग्रेस में लौट गए। जग्गा को हटा उन्हें यहां से टिकट देने पर विचार चल रहा है।

12 विधायकों की टिकट दांव पर

पंजाब कांग्रेस की दूसरी लिस्ट में 12 विधायकों की टिकट दांव पर है। इनमें फिरोजपुर ग्रामीण से सत्कार कौर की टिकट कटनी तय है। उनकी जगह आप से आए आशु बांगड़ को टिकट दी जा रही है। फाजिल्का से दविंदर घुबाया की भी टिकट काटी जा रही है। उन्हें पहले फिरोजपुर ग्रामीण भेजा जा रहा था लेकिन वहां अब आप उम्मीदवार के कांग्रेस में आने से समीकरण बदल गए हैं। इसी तरह कई सीटों पर विधायकों के टिकट कट सकते हैं।

 

ये भी पढ़ें