‘Gold’ के झांसे में आए जालंधरियों ने गंवाए 50 करोड़!, पढ़ें

जालंधर (ब्यूरो): कोरोना का कहर झेल रहे जालंधर वासियों पर एक और कहर टूटा है। जालंधर के सैंकड़ो लोगों को गोल्ड देने का झांसा देकर एक कम्पनी करोड़ों रूपए का फ्राड कर फरार हो गई है।

जालंधर के सैंकड़ो लोग अब हाथ मलते नज़र आ रहे हैं। लोगों ने आज जालंधर के पी.पी.आर. मॉल में स्थित उक्त कंपनी के दफ्तर में जमकर हंगामा किया।

पी.पी.आर. माल में हंगामा कर रहे लोगों ने बताया कि यहां पर कंपनी का दफ्तर था। कंपनी द्वारा झांसा दिया गया था कि वे उनके पास किट्टी डाले। 11 महीने तक लोगों को पैसा देना होगा और 12वें महीने कंपनी अपनी तरफ से किश्त देगी। जिसके पश्चात किट्टी डालने वाले व्यक्ति उतनी कीमत का गोल्ड या पैसे ले सकता है।

लोगों ने बताया कि कई लोगों ने अपनी समर्था के मुताबिक गोल्ड लेने के लिए किट्टी डाली। लेकिन अब कंपनी फरार हो चुकी है। कंपनी का दफ्तर बंद है और सभी कर्मचारी फरार हो चुके हैं। लोगों का अनुमान है कि कंपनी ने जालंधरवासियों का करीब 50 करोड़ रूपए इकट्ठा करके फरार हुई है। लोगों के मुताबिक कंपनी के की जगह पर दफ्तर भी थे। अब सभी दफ्तर बंद हो चुके हैं। इसी बीच लोगों ने कंपनी के दो कर्मचारियों को काबू कर पुलिस के हवाले भी किया है। पुलिस में लिखित शिकायत दर्ज करवा दी गई है। ए.सी.पी. माडल टाऊन हरिन्द्र सिंह द्वारा मामले की जांच शुरू की गई है।

ये भी पढ़ें