हवाई सफर करना है तो साथ रखना होगा एक और Passport!, पढ़ें

Prabhat Times
मैड्रिड। (Corona Vaccine Passport) अब अगर आप दुनिया के किसी देश में यात्रा पर जा रहे हैं तो हो सकता है कि आपको एक पासपोर्ट और साथ रखना होगा। ये होगा कोरोना वैक्सीन पासपोर्ट (Corona Vaccine Passport). दरअसल, कोरोना महामारी (COVID-19 Pandemic) ने पूरी दुनिया को हिलाकर रख दिया है और अब टूरिज्म सेक्टर को मजबूती देने के लिए यह कदम उठाया जा सकता है. अंतरराष्ट्रीय टूरिज्म संस्था ने दुनिया के स्वास्थ्य संगठनों से वैक्सीन पासपोर्ट देने की मांग उठाई है ताकि कोरोना काल में भी टूरिज्म सुरक्षित रह सके.

इंटरनेशनल टूरिज्म के लिए वैक्सीन पासपोर्ट!

अंतरराष्ट्रीय टूरिज्म शुरू करने के लिए अब वैक्सीन पासपोर्ट को जरूरी ट्रैवल डक्यूमेंट बनाने की तैयारी चल रही है. ग्लोबल टूरिज्म क्राइसिस कमिटी की स्पेन के शहर मैड्रिड में हुई बैठक में अंतरराष्ट्रीय टूरिज्म (International Tourism) को सुरक्षित तरीके से शुरू करने के तौर-तरीके पर चर्चा की गई. बैठक में अंतरराष्ट्रीय हेल्थ एंड ट्रैवल संस्था से आग्रह किया गया है कि वह एक ऐसी डिजिटल व्यवस्था बनाए जो कोरोना टेस्ट को प्रोटोकाल के अनुसार हो.

वैक्सीन पासपोर्ट इसलिए है जरूरी

लंदन में ट्रैवल मेडिसिन के स्पेशलिस्ट डॉ. रिचर्ड दाऊद (Dr Richard Dawood) ने कहा कि ट्रैवल के दौरान कोरोना वैक्सीनेशन का प्रूफ अब जरूरी हो गया है. यह कोई हमारी अपनी पसंद नहीं होगी बल्कि (वैक्सीन पासपोर्ट) हर देश को लोगों को सुरक्षित रखने का एक तरीका होगा.
उन्होंने कहा कि मौजदा अंतराष्ट्रीय हेल्थ नियम, जैसे कुछ देशों के लिए येलो फीवर सर्टिफिकेट जरूरी जैसे नियम हैं. यानि जमीनी स्तर पर काम किया जा चुका है पर असल मुद्दा ये है कि कोरोना से बचने के लिए सुरक्षित व्यवस्था बनाना कब लागू होगा.
इस वक्त ब्रिटेन के लोगों को वैक्सीन लगने के बाद एक पेपर दिया जा रहा है लेकिन यह पूरी तरह से सुरक्षित नहीं है. उन्होंने कहा, ‘हमें वैक्सीन दिए जाने का एक स्थायी प्रमाणपत्र देने की जरूरत है.’

‘टूरिज्म के लिए अब और इंतजार नहीं’

UNWTO के महासचिव जुरब पोलोलिक्सवेली (Zurab Pololikashvili) ने कहा, ‘कोरोना वैक्सीन का आना एक अच्छा कदम है. लेकिन टूरिज्म शुरू करना जरूरी है और अब इसके लिए इंतजार नहीं किया जा सकता है. वैक्सीन के साथ सर्टिफिकेट और लोगों को सुरक्षित तरीके के दुनिया के एक देश से दूसरे देश में जाने की गारंटी भी होनी चाहिए.’

ब्रिटेन ने सख्त कर रखे हैं नियम

कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन (New Coronavirus Strain) के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए इस बैठक को विश्व टूरिज्म संगठन ((UNWTO) ने बुलाया था. नए कोरोना वायरस के कारण ब्रिटेन को अपने यहां लॉकडाउन लागू करना पड़ा है दुनिया के कई देश ब्रिटेन से हवाई आवाजाही रोक चुके हैं.
ब्रिटेन में विदेश से आने वाले लोगों को क्वारंटीन रहना पड़ रहा है साथ ही वहां दक्षिणी अमेरिका और पुर्तगाल से आवागमन पर पूरी तरह रोक है.

ये भी पढ़ें