Prabhat Times
जालंधर। (Kissan Andolan) कई दिनों से चल रहे किसान आंदोलन पर केंद्र सरकार द्वारा अपनाए जा रहे हठी रवैये पर तंज कसते हुए न्याय मोर्चा पंजाब के प्रधान सुरजीत सिंह उर्फ राजू पहलवान ने कहा कि आखिर सरकार और कितनी शहादतें चाहती है। सवाल ये है कि अगर किसान सरकार द्वारा दिया जा रहा कथित फायदा नहीं लेना चाहते तो आखिर सरकार जब्री ये बिल किसानों पर क्यों थोप रहे हैं।
राजू पहलवान ने कहा कि किसी को भी जब्री फायदा नहीं दिया जा सकता और ये कतई भी न्यायोचित्त नहीं है। जिस प्रकार से केंद्र सरकार हठी रवैया अपनाए हुए है, उससे स्पष्ट है कि केंद्र सरकार द्वारा कुछ बडे ग्रुपों के साथ कथित डील और सलाह के पश्चात कानून बनाए गए हैं। किसानों के समर्थन में न्याय मोर्चा पंजाब के प्रधान राजू पहलवान ने भी किसानों के समर्थन का ऐलान किया है।
राजू ने कहा कि केंद्र सरकार किसानों के साथ धक्केशाही कर रही है। एक विशिष्ट वर्ग को फायदा देने के लिए बनाए गए कानून सोची समझी साजिश के अधीन किसानों पर थोप रही है। जो कि कतई नहीं होने दिया जाएगा।
किसानों के इस संघर्ष में प्रदेश का हर वर्ग किसानों के साथ है। किसानों द्वारा किए जा रहे प्रदर्शन आंदोलन का न्याय मोर्चा द्वारा हर तरह से समर्थन करता है। राजू पहलवान ने कहा कि ये समझ से परे है कि सरकार इस मामले में इतना हठी रवैया क्यों अपनाए हुए हैं। सरकार द्वारा जिन्हें राहत देने के लिए कृषि कानून लाए गए हैं, अगर लोग इससे खुश नहीं है तो जब्रदस्ती क्यों थौपे जा रहे हैं।
राजू पहलवान ने कहा कि सरकारें अपने देश, राज्य के नागरिकों की जान माल की सुरक्षा के लिए होती है। लेकिन केंद्र की ये मोदी सरकार तानाशाही रवैया अपनाए हुए जो कतई सहन नहीं किया जाएगा।
राजू पहलवान ने कहा कि इतिहास गवाह है कि अपने हितों की खातिर हमेशा से संघर्षरत रहे किसान कभी भी पीछे नहीं हट सकते। किसान शहीद हो जाएंगे, लेकिन पीछे नहीं हटेंगे। न्याय मोर्चा पंजाब भी इस संघर्ष में तन, मन धन से किसानों के साथ है। जब तक केंद्र सरकार का गरूर टूट नहीं जाता वे सभी संघर्ष जारी रखेंगे।

ये भी पढ़ें

Share the information