Prabhat Times
जालंधर। DAV University में टीचिंग, नॉन-टीचिंग स्टाफ और स्टूडेंट्स ने शीतकालीन संक्रांति के गुजरने से जुड़ा पारंपरिक त्योहार लोहड़ी मनाने के लिए एक समारोह का आयोजन किया।
उत्सव की शुरुआत यूनिवर्सिटी की कार्यवाहक वाईस चांसलर डॉ जसबीर ऋषि द्वारा अग्नि प्रज्वल्लित करने के साथ हुई। इस मौके पर कार्यवाहक डीन एकेडमिक्स डॉ आर के सेठ सहित अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।
कर्मचारियों और छात्रों ने अग्नि के चारों ओर इकट्ठा होकर, मूंगफली, तिल और अन्य खाद्य पदार्थों को अग्नि को भेंट किये। उन्होंने सबके कल्याण और समृद्धि के लिए भी प्रार्थना की। समारोह के दौरान पार्टीसिपेंट्स ने कोविड-19 प्रोटोकॉल का भी पालन किया।
इस अवसर पर यूनिवर्सिटी के छात्रों ने शानदार कार्यक्रम पेश किया। उन्होंने लोक नृत्य, गीत प्रस्तुत किए और एक दूसरे को शुभकामनाएं दीं। स्टूडेंट्स में लॉकडाउन के बाद वापिस लौटने की खुशी साफ़ झलक रही थी।
डॉ जसबीर ऋषि ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि लोहड़ी गर्मजोशी और बदलाव का त्योहार है। लोहड़ी ने बदलते मौसम और बहार के आने की आहट दी है।
डॉ जसबीर ने कहा कि त्योहार का मनाया जाना कोविड के बीच अधिक महत्व रखता था। उन्होंने कहा, “हम आशा करते हैं कि लोहड़ी मानव जाति की पीड़ा को समाप्त करेगी और कोविड मुक्त दुनिया को रास्ता देगी।”

ये भी पढ़ें

Share the information