चंडीगढ़ (ब्यूरो): स्कूल फीसों को लेकर चल रही असमंजस की स्थिति से आज पंजाब सरकार ने अभिभावकों बाहर निकाल दिया है। पंजाब के शिक्षा मंत्री ने ऐलान किया है कि कोई भी स्कूल एडमिशन और टयूशन फीस के अतिरिक्त और कोई फंड नहीं ले सकता।ऑनलाईन पढ़ाई करवा रहे स्कूल सिर्फ टयूशन फीस ले सकते हैं। ट्यूशन फ़ीस के अलावा स्कूल ट्रांसपोर्टेशन, बिल्डिंग, इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट, यूनीफॉर्म या मैस इत्यादि जैसे शुल्क नहीं ले सकेंगे।

जारी प्रैस ब्यान में पंजाब सरकार के शिक्षा मंत्री विजय इंद्र सिंगला ने कहा कि कोई भी स्कूल फ़ीस में बढ़ौतरी नहीं करेगा। विजय इंद्र ने कहा कि अभिभावक बच्चों की टयूशन फीस इकट्ठी तीन महीने की बजाए एक-एक माह की भी जमा करवा सकते हैं।

विजय इंद्र सिंगला ने ये भी कहा कि किसी टीचर की सैलरी नहीं रोकी जाएगी। इन सब मामलों की जांच के लिए एक टीम गठित की गई है। जो कि जांच करेगी कि अगर कोई भी नियमों का उल्लंघन करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Share the information