पंजाब के CM चन्नी ने लाखों लोगों को दी बड़ी राहत, बिजली संकट पर कही ये बात

Meeting

Prabhat Times

चंडीगढ़। (Punjab CM Charanjit Channi Cabinet Meeting) पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने कैबिनेट की बैठक पंजाब के लोगों के हित में कई बड़े फैसले लिए हैं. उन्होंने बैठक के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि पंजाब में गावों और शहरों में आने वाले लाल लकीर के अंर्तगत आने वाली जमीनों को वहां रहने रहे लोगों के नाम किया जाएगा। उन्होंने कहा, ‘मेरा घर मेरे नाम’ स्कीम के तहत लाल लाल लकीर में रह रहे पंजाब के लोगों को फायदा होगा. इन जमीनों की रजिस्ट्री भी फ्री की जाएगी।
इसके अलावा सीएम चन्नी ने कहा, अकसर ऐसी खबरें आती थीं कि पंजाब के एनआरआई यानी पंजाब के रहने वाले वो लोग जो अब कहीं दूसरे देश में रहते हैं, राज्य में उनकी संपत्ति पर कब्जा हो जाता था. सी.एम. चन्नी ने कहा कि पंजाब सरकार आने वाले समय में एनआरआइ की प्रापर्टी के लिए बिल लेकर आ रही है। एनआरआइ की प्रापर्टी के रिकार्ड में चढ़ जाएगा कि यह प्रापर्टी एनआरआइ की है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने जो 2 किलो वाट तक के बकाया बिल माफ किए हैं, उसमें जाति का कोई लेना-देना नहीं है। वह सभी का है। अगर उनका लोड 2 किलो वाट है। इसके लिए फार्म बनाया गया है। वह फार्म दो किलोवाट तक के उपभोक्ताओं को दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि मुझे ब्यूरोक्रेसी से काम लेना भी आता है और करवाना भी, क्योंकि मैं तीन बार खुद एमसी रहा हूं। मैंने खुद भी सीढ़ी लगाकर बल्ब लगाए हैं।
आने वाले विधानसभा चुनावों के मद्देनजर चन्नी कैबिनेट का ये फैसला काफी अहम माना जा रहा है. पंजाब में लाल लकीर की जमीन पर घर बनाकर रहने वाले लोगों की संख्या काफी ज्यादा है. ऐसे में इन लोगों की सबसे बड़ी दिक्कत को सरकार ने खत्म करने का ऐलान किया है. यानी अब लाल डोरे में रहने वाले लोगों को घरों को नहीं गिराया जाएगा. बल्कि उन्हें उस जमीन का मालिकाना हक मिलेगा.

बिजली संकट पर सी.एम. ने कही ये बात

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने बिजली और कोयले की किल्लत को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि पूरे देश की तरह पंजाब भी कोयले की किल्लत झेल रहा है और इसी वजह से बिजली उत्पादन पर असर पड़ रहा है, लेकिन मैं पंजाब के लोगों को भरोसा दिलाना चाहता हूं कि हम ब्लैकआउट की स्थिति नहीं बनने देंगे। उन्होंने कहा कि हम लगातार केंद्र सरकार के साथ संपर्क में हैं और पूरी कोशिश की जा रही है कि बिजली उत्पादन किसी भी हाल में ना रुके। उन्होंने कहा कि जो भी पावर कट पंजाब में लग रहे हैं वो जान-बूझकर नहीं लगाए जा रहे हैं।

कैबिनेट मीटिंग में शामिल हुई रजिया सुल्ताना

नवजोत सिद्धू के हक में इस्तीफा देने वाली कैबिनेट मंत्री रजिया सुल्ताना आज चंडीगढ़ में हुई कैबिनेट बेठक में हिस्सा लिया। बताया जा रहा है कि रजिया सुल्ताना ने अपना इस्तीफा वापस ले लिया है। इसी कारण वे मीटिंग में पहुंची।

ये भी पढ़ें