Prabhat Times
जालंधर। शहर के थाना रामामंडी एरिया से संदिग्ध हालात में रिटायर्ड लेफ्टिनेंट कर्नल विनीत पासी का लापता बेटा अरमान मिल गया है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सुबह खुद ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है। बच्चे को दिल्ली से बरामद किया है। अब सवाल यह है कि बच्चा साइकिल से दिल्ली कैसे पहुंचा या कोई उसे दिल्ली लेकर गया।
इससे पहले रि. ले. कर्नल विनीत की उसे तलाशने की गुहार इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो गई थी। इसके बाद सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मामले का संज्ञान लिया था। रविवार रात सीएम ने ट्वीट कर रिटायर्ड लेफ्टिनेंट कर्नल विनीत पासी को ढांढस बंधाया था और कहा था कि इस मामले में उन्होंने पंजाब के डीजीपी को जल्द से जल्द अरमान को खोजने का निर्देश दिया है। बच्चे को जल्द तलाश लिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने पंजाब के लोगों से भी इस मामले में मदद की अपील की थी।
लद्देवाली रोड के पास ग्रीन काउंटी में रहने वाले रि. कर्नल विनीत पासी ने बताया था कि गत शनिवार दोपहर 3 बजे उनका 15 साल का बेटा अरमान हरे रंग की साइकिल पर घर से बाहर निकला था। रोजाना वह 6:30 से 7:00 तक घर लौट आता था लेकिन शनिवार रात 8:00 बजे तक नहीं लौटने पर उन्होंने उसकी तलाश शुरू की लेकिन अरमान नहीं मिला। उसके बाद थाना रामामंडी में गुमशुदगी की रिपोर्ट दायर करवाई। पासी ने बताया था कि वह लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी में डिप्टी सेक्रेटरी हैं। अरमान के मिलके बाद खुद सीएम अमरिंदर ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है।

आखिरी बार चौगिट्टी चौक पर देखा गया

शुरुआती जांच में सीसीटीवी फुटेज से पता चला था कि अरमान आखिरी बार चौगिट्टी चौक के पास देखा गया था। इस फुटेज में अरमान ब्लैक और ग्रे कलर के ट्रैक सूट में नजर आ रहा था। पासी ने बताया था कि उनके बेटे का आइक्यू लेवल थोड़ा कम है और वह दोनों कानों से कम सुनता है जिसके चलते उसके दोनों कानों में हियरिंग मशीन लगी हुई है।

डीजीपी ने थानों को दिए निर्देश

उधर, देर रात डीजीपी दिनकर गुप्ता ने जालंधर के सभी थानों को बच्चे को जल्द से जल्द तलाशने के आदेश जारी कर दिए। सभी जगह बच्चे का फोटो भेज दिया गया। पुलिस ने सुबह अरमान का तलाशने में सफलता प्राप्त कर ली है।

ये भी पढ़ें

Share the information