बड़ी खबर:दो दिन बाद अंधेरे में डूब सकता है पंजाब!, पढ़ें क्यों

Prabhat Times
जालंधर। आने वाले एक दो दिन मे पंजाब राज्य अंधेरे में डूब सकता है। किसान आंदोलन के कारण पिछले दिनों से थर्मल प्लांट में कोयला नही पहुंच रहा है। कोयले की आपूर्ति न होने के कारण सरकार द्वारा तीन सरकारी और प्राईवेट थर्मल प्लांट बंद कर दिए हैं।
बता दे कि पिछले कुछ दिनो से कृषि बिल को लेकर किसानों का आंदोलन चल रहा है। जिस कारण रेल आवाजाई बिल्कुल ठप्प है। ये आंदोलन फिलहाल खत्म होता भी नज़र नहीं आ रहा है।
आंदोलन के कारण रेल आवाजाई ठप्प हो चुकी है। सबसे बड़ी मुसीबत ये बन गई है कि राज्य में बिजली की आपूर्ति करने वाले थर्मल प्लांट में भी अब कोयला नहीं पहुंच पा रहा है। बताया जा रहा है कि अगर एक दो दिन में कोयला न पहुंचा तो आने वाले दिनों में पंजाब अंधेरे में डूब जाएगा।
केबनिट मंत्री साधू सिंह धर्मसोत ने भी एक इंटरव्यू में इस तथ्य की पुष्टि की है। उधर, सूत्रो ने बताया कि थर्मल प्लांट के पास अब सिर्फ 3 दिनों का कोयला बचा है। जेकर कोयले की आपूर्ति जल्द न हुई तो पंजाब मे ब्लैक आऊट हो सकता है।
बताया जा रहा है कि इस संबंधी संबंधित विभाग द्वारा सरकार को अवगत करवाया गया है। संबंधित अधिकारी इस समस्या से समय रहते हल निकालने का प्रयास कर रहे हैं।
पता चला है कि सरकार द्वारा किसान संगठनों से बातचीत चल रही है कि कोयले से लद्दी रेल गाड़ियों को निकलने दी जाएं। सरकारी प्रवक्ता के मुताबिक इस समस्या से जल्द ही हल निकाल लिया जाएगा।