Prabhat Times
नई दिल्ली। माइक्रो ब्लॉगिंग वेबसाइट Twitter 20 जनवरी से पब्लिक वेरिफ़िकेशन शुरू करने जा रही है। ये वेरिफिकेशन ब्लू टिक के लिए आवेदन करने वाली कंपनियों या किसी इंडिविजुअल का किया जाता है।
बता दें कि लगभग तीन साल तक पब्लिक वेरिफ़िकेशन को कंपनी ने कंपनी ने बंद रखा, लेकिन 2021 की शुरुआत से अब लोग ब्लू टिक के लिए रिक्वेस्ट कर सकेंगे।
ट्विटर इंडिया ने शुक्रवार को कहा कि उसकी नई वेरिफिकेशन पॉलिसी 20 जनवरी से लागू की जाएगी और इस दौरान जो Twitter अकाउंट एक्टिव नही है या फिर उनकी डिटेल अधूरी है, उन अकाउंट से वेरिफिकेशन बैज हटा दिया जाएगा।
नई पॉलिसी के तहत Twitter के नियमों का बार-बार उल्लंघन करने वाले अकाउंट का वेरिफेकेशन हटाया जा सकता है। साथ ही इन अकाउंट पर निगरानी रखी जाएगी।
दरअसल ट्वीटर अपने नियमों को वेरिफिकेशन प्रोसेस में साल 2021 में सुधार करने जा रहा है।
Twitter की नई पॉलिसी को लेकर यूजर को ऑटोमेटिकली इन ऐप नोटिफिकेशन मिलेगा, जिसमें नए नियमों को लेकर यूजर को जागरूक किया जाएगा।
Twitter की तरफ से अपने नए वेरिफिकेशन प्रोसेस के लिए 24 नवंबर से 8 दिसंबर आम पब्लिक से राय मांगी गई थी। ऐसे में ट्वीटर को करीब 22,000 सर्वे रिस्पांस मिले हैं।
इन स्थितियों में हटाया जा सकता है ब्लू टिक
कंपनी ने कहा है कि इनऐक्टिव अकाउंट से ब्लू टिक हटाया जा सकता है. ट्वीटर यूज़रनेम और बायो बदलने कि स्थिति में भी ब्लू टिक हटाया जा सकता है.
ट्वीटर वेरिफ़िकेशन जिस पद के लिए हुआ था अगर अब वो नहीं है तो ऐसी स्थिति में भी कंपनी ब्लू टिक हटा सकती है.

इन एकाउंट्स को ही मिलेगा ब्लू टिक

Twitter ने अपने पोस्ट में मेंशन किया है कि इस तरह के अकाउंट्स को वेरिफाई कराया जा सकता है. इसमें >> सरकार के अकाउंट >>  ब्रांड्स के ट्विटर हैंडल >> कंपनियों के अकाउंट >> न्यूज़ मीडिया ट्विटर अकाउंट्स >> नॉन प्रॉफिट ऑर्गनाइज़ेशन >>  एंटरटेनमेंट, ऐक्टिविस्ट >> स्पोर्ट्स।

ये भी पढ़ें

Share the information