RTI में खुलासा! इस वजह से पंजाब समेत इन राज्यों में हुई Corona Vaccine की शार्टेज, पढ़ें

dose
Prabhat Times
नई दिल्ली। वैक्सीन (Covid Vaccine) की कमी की खबरों के बीच एक नई जानकारी ने चिंता बढ़ाई है. आर.टी.आई. में पंजाब समेत कई राज्यों में कोरोना वैक्सीन की शार्टेज की बड़ी वजह सामने आई है। खबर है कि 11 अप्रैल तक देश में 23 फीसदी कोविड वैक्सीन बर्बाद हो चुकी है.
खास बात है कि वैक्सीन बर्बादी के मामले में तमिलनाडु, हरियाणा, पंजाब, मणिपुर और तेलंगाना सबसे आगे हैं. वैक्सीन को लेकर दायर एक RTI में जवाब मिला है कि राज्यों के उपयोग में आए 10.34 करोड़ वैक्सीन डोज में से 44.78 लाख डोज बर्बाद हो गए हैं.
एक ओर देश के कई राज्यों में वैक्सीन कमी जैसे हालात तैयार हो रहे हैं. वहीं, दूसरी ओर कुछ ऐसे राज्य भी हैं, जो लगातार वैक्सीन बर्बादी में आगे चल रहे हैं. हाल ही में एक RTI से मिली जानकारी बताती है कि देश में 11 अप्रैल तक 23 फीसदी वैक्सीन डोज बर्बाद हो चुके हैं.
तमिलनाडु में वैक्सीन वेस्टेज ज्यादा है. यहां 11 अप्रैल तक 12.10% खराब हो चुकी है. दूसरे नंबर पर 9.74% के साथ हरियाणा है. इसके बाद पंजाब में 8.12, मणिपुर में 7.80, तेलंगाना में 7.55 प्रतिशत वैक्सीन बर्बाद हो चुकी है.

इन राज्यों वैक्सीन वेस्टेज नहीं

देश के कुछ राज्य और केंद्र शासित प्रदेश ऐसे भी हैं, जहां वैक्सीन वेस्टेज नहीं हुआ है. मिली जानकारी के अनुसार, केरल, पश्चिम बंगाल, हिमाचल प्रदेश, मिजोरम, गोवा, दमन एंड दियु, अंडमान एंड निकोबार आईलैंड और लक्षद्वीप पर वैक्सीन बर्बादी नहीं हुई है.
देश में बीती 16 जनवरी से वैक्सीन कार्यक्रम शुरू हो गया था. देश में फिलहाल 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को टीका लगाया जा रहा है.

राज्यों में वैक्सीन वेस्टेज को आंकड़ों में समझें

आंध्र प्रदेश: 1,17,733, असम: 1,23, 818, बिहार: 3,37,769, छत्तीसगढ़: 1.45 लाख, दिल्ली: 1.35 लाख, गुजरात: 3.56 लाख, हरियाणा: 2,46,462, जम्मू-कश्मीर: 90,619, झारखंड: 63,235, कर्नाटक: 2,14,842, लद्दाख: 3,957, मध्य प्रदेश: 81,535, महाराष्ट्र: 3,56725, मणिपुर: 11,184, मेघालय: 7,673, नागालैंड: 3,844, ओडिशा: 1,41,811, पुडुचेरी: 3,115, पंजाब: 1,56,423, राजस्थान:6,10,551, सिक्किम: 4,314, तमिलनाडु: 5,04,724, तेलंगाना: 1,68,302, त्रिपुरा: 43,292, उत्तर प्रदेश: 4,99,115, उत्तराखंड: 51,956।

1 मई से लगेगी 18+ को वैक्सीन

हाल ही में सरकार ने वैक्सीन लगाने को लेकर बड़ा फैसला लिया है. नए आदेश के अनुसार, आगामी 1 मई से 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को वैक्सीन दी जाएगी. इसके अलावा सरकार ने वैक्सीन की कीमत, उपलब्धता को लेकर भी बड़े फैसले लिए हैं.
फिलहाल सरकार चरणबद्ध तरीके से वैक्सीन ड्राइव चला रही है. पहले चरण में स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़े कर्मियों को टीका लगाया गया था. फिलहाल 45 साल से ज्यादा उम्र वालों को वैक्सीन दी जा रही है.
ये भी पढ़ें