Prabhat Times
जालंधर। महामारी कोरोना ने बढ़े बढ़े देशों की हवा निकाल दी है। कोरोना के कारण हुआ लॉकडाउन में अर्थव्यवस्था का बुरा हाल है।
सरकारों द्वारा बेशक अनलॉक नीति पर काम किया जा रहा है, लेकिन साथ ही कोविड 19 से बचाव के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी नियमों का पालन भी अनिवार्य बताया जाता है।
कोरोना से बचाव के लिए बनाए नियमों का पालन सख्ती से हो, इसका ध्यान पुलिस, प्रशासनिक और सभी सरकारी विभागों के अधिकारियों की जिम्मेदारी है।
लेकिन आज रविवार को सुबह माडल टाऊन मार्किट में सी.टी. ग्रुप द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कोविड 19 नियमों की सरेआम धज्जियां उड़ाई गई और उन्हें रोकने की बजाए नगर निगम जालंधर के कमिश्नर करणेश शर्मा व ज्वाईंट कमिश्नर शाईनी मल्हौत्रा खुद डी.जे. पर नाचते देखे गए।

जोखिम में डाली बच्चों की जान!

जानकारी के मुताबिक सी.टी. ग्रुप द्वारा माडल टाऊन मार्किट में wow (weekend of wellness) कार्यक्रम आयोजित किया गया।
इस दौरान माडल टाऊन मार्किट में दोनो तरफ से सड़कें बंद करके कई तरह की गेम्ज़, एक्टीविटीज़ तथा डी.जे. स्टेज लगाकर फिटनैस के नाम पर डांस प्रोग्राम रखा गया।
डांस प्रोग्राम में कोरोना नियम मास्क, सोशल डिस्टेसिंग, सेनीटाइज़र को सरेआम ठेंगा दिखाया गया।
क्रार्यक्रम के दौरान मासूम बच्चे भी बिना मास्क और ग्लबज़ के डांस करते देखे गए। लेकिन हैरानीजनक तथ्य ये रहा कि किसी ने भी बच्चों को भीड़ से अलग करने की कोशिश नहीं की गई।
इसके अलावा वहां पर रखी गई विभिन्न गेम्ज़ में स्टिक, प्लेटस, बैडमिंटन रैकेट, फुटबाल, इत्यादि गेम्ज़ में प्रयोग किए जाने वाली वस्तुओं को एक बार भी सैनीटाइज़ नहीं किया गया। सोशल डिस्टेंस नाम का कोई नियम वहां दूर दूर तक नज़र नहीं आया।

निगम कमिश्नर व ज्वाईंट कमिश्नर ने खूब डाला भांगड़ा और खेली गेम्ज़

सरकारी नियमों का पालन करवाने के लिए तैनात सरकारी अधिकारियों ने भी सरेआम नियमों के उल्लंघन को रोकने की कोशिश नहीं की।
कार्यक्रम में पहुंचे नगर निगम जालंधर के कमिश्नर करणेश शर्मा, ज्वाईंट कमिश्नर शाईनी मल्हौत्रा कई जनप्रतिनिधि ने नियमों का उल्लंघन रोकने की बजाए खुद ही गेम्ज़ खेलने लगे और काफी देर तक डी.जे. और ढोल की थापों पर नातते दिखाई दिए।

आखिर किसने दी नियमों का उल्लंघन करने की मंजूरी?

कोरोना महामारी ने सभी को हिला कर रख दिया है। सरकार द्वारा समय समय पर अनलॉक के निर्देश दिए गए। आज भी किसी बड़े कार्यक्रम, इकट्ठ करने की मनाही है।
लेकिन आज माडल टाऊन में हुए इस कार्यक्रम ने आयोजकों के साथ साथ इस कार्यक्रम को स्पोर्ट करने वाले नगर निगम जालंधर तथा कमिश्नरेट पुलिस जालंधर के अधिकारियों पर भी प्रश्नचिन्ह लगा दिया है।
बड़ा सवाल ये है कि कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ाने वाले इस कार्यक्रम को करने की मंजूरी किसने दी?

देखें Video

Share the information